_टूटे फूटे चकरोड से आने-जाने को मजबूर सढान हरिजन बस्ती के ग्रामीणो ने प्रदर्शन कर जताया आक्रोश_

चंदौली

*_टूटे फूटे चकरोड से आने-जाने को मजबूर सढान हरिजन बस्ती के ग्रामीणो ने प्रदर्शन कर जताया आक्रोश_

चहनियां।स्थानीय बिकास खंड के ग्राम पंचायत सढान के हरिजन बस्ती के आवागमन में प्रयुक्त होने वाले चकरोड पर 15 वर्षों से मरम्मत कार्य नही हुआ है,ग्रामीण टूटे और कीचङ वाले रास्ते से आने जाने के लिए मजबूर है।उनका मानना है कि चकरोड पर आर,सी,सी का भी पैसा पास हो चूका है और प्रधान व सेक्रेटरी द्वारा घपलेबाजी कर ली गयी है।जिसकी निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे ग्रामवासियों ने मंगलवार को प्रदर्शन कर आक्रोश जताया और जिलाधिकारी को पत्र लिखकर मामले की जांच कराने की मांग भी किया।प्रदर्शन कर रहे अजय कुमार,पप्पू कुमार,रविंद्र कुमार,अवधेश कुमार,लल्लन कुमार,हरिश्चन्द्र,बेचन, नंदकिशोर,कैलाश, राजेश,सुनील राम आदि ने आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव के दौरान घड़ियाली आंसू बहाकर वोट लेने वाले प्रधान और जन प्रतिनिधि बनने के बाद गांव की समस्याओं से अन्जान बनकर लूट खसोट में लग जाते हैं।जिससे हम बस्ती वासियों के आवागमन के लिए एक मात्र मिट्टी के रास्ते का न मरम्मत हो पाया ना ही इसे पक्का कराया गया।जिससे प्रति वर्ष अाते जाते समय बरसात के मौसम में रास्ते पर गिरकर घायल हो जाते है।लेकिन हम ग्रामीणों की समस्या सुनने वाला कोई नहीं है।
*_मानवाधिकार मीडिया से हरदीप कुमार ब्यूरो रिपोर्ट_।*