दिल्ली हारते गैस के दाम बढ़ना संयोग या प्रयोग-ओ.पी.

रायबरेली।सेन्ट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ओ.पी. यादव ने कहा कि दिल्ली विधान सभा चुनाव में भाजपा की हुई करारी हार के तुरन्त बाद रसोई गैस के दाम मोदी सरकार द्वारा बढ़ाया जाना संयोग है या प्रयोग, यह मोदी जी को जनता के बीच बताना पड़ेगा।  घरेलू रसोई गैस में प्रति सिलेन्डर 144/- रूपये व प्रति कामर्सियल सिलेन्डर में 230/- रूपये की बढ़ौत्तरी से आम जनता की कमर टूट चुकी है। बढ़ती मँहगाई व बेरोजगारी से वैसे ही जनता त्रस्त है। लोग भुखमरी का शिकार है, कहीं-कहीं भूख से आत्म हत्या कर रहे हैं।  

एैसे में रसोई गैस के दाम बढ़ते से रसोई घर का चूल्हा ठंडा हो गया है।  उज्जवला योजना के नाम पर भाजपा ने कई चुनाव भी लड़े, सफलता भी पाई, लेकिन उज्जवला योजना का लाभ पाने वाले लाभार्थी अपने को ठगा सा महसूस कर रहे हैं, क्योंकि उज्जवला योजना के तहत रसोई गैस खरीदने में किसी प्रकार की सब्सिडी नहीं मिलती है, इस प्रकार उज्जवला योजना निर्लज्ज योजना बनकर रह गयी है। श्री यादव ने केन्द्र सरकार से रसोई गैस की बढ़ी हुई कीमत वापस लिये जाने की माँग की है।