अक्षय कुमार सिंह की दया याचिका भी राष्ट्रपति ने ख़ारिज की

अक्षय की ओर से फांसी से राहत पाने के लिए 1 फ़रवरी को यह दया याचिका दाख़िल की गई थी. दोषी मुकेश सिंह और विनय शर्मा की दया याचिका राष्ट्रपति कोविंद पहले ही ख़ारिज कर चुके हैं. वहीं पवन गुप्ता ने अब तक दया याचिका दायर नहीं की है.

इससे पहले, बुधवार सुबह ही निर्भया गैंगरेप और हत्या केस से जुड़ी केंद्र सरकार की याचिका को दिल्ली हाई कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया था.हाई कोर्ट ने कहा कि ‘निर्भया मामले के दोषियों को अलग-अलग फांसी नहीं दी जा सकती.’केंद्र सरकार ने दोषियों को अलग-अलग फांसी देने के लिए अदालत में अर्ज़ी दाख़िल की थी जिस पर रविवार को कोर्ट ने सुनवाई के बाद अपना फ़ैसला सुरक्षित रख लिया था

 भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने साल 2012 के दिल्ली के बहुचर्चित निर्भया गैंगरेप केस के चार दोषियों में से एक, अक्षय कुमार सिंह की दया याचिका बुधवार को ख़ारिज कर दी है.