उत्तर प्रदेश चंदौली

बलुआ स्थित पश्चिम वाहिनी गंगा तट पर स्नान करते श्रद्धालु गण

चहनियां।बलुआ स्थित गंगा तट पर बुधवार को गंगा दशहरा के अवसर पर सैकड़ों श्रद्धालुओं माँ गंगा तट पर आस्था की डुबकी लगायी।स्नान करके दान आदि किया।स्नान कार्य के दौरान भारी भीड़ उमड़ी।भीड़ को देखते हुए स्थानीय पुलिस भी काफी सक्रिय रही।लोगों ने अपनी आस्था के साथ जीवनदायिनी मोक्ष दायिनी मां गंगा की विधिवत पूजन करके आशीर्वाद प्राप्त किया।

हिन्दू धर्म में गंगा दशहरा को उत्सव के रूप में मनाने का चलन है।इस दिन हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग मां गंगा में डुबकी लगाकर पूजा अर्चना करके मां गंगा का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं।हिन्दू रीति रिवाज के मुताबिक हर वर्ष ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष दशमी तिथि को गंगा दशहरा मनाया जाता है।इस दिन हवन पूजन और मुंडन जैसे आदि शुभ कार्य होते है।गंगा किनारे स्नान कर हवन पूजन करते है।

मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन दान कार्य करने का बहुत ही महत्व है।हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार आज ही मां गंगा का अवतरण धरती पर हुआ है।गंगा दशहरा की कई कथायें प्रचलित है जिसमें राजा भगीरथ की कथा विश्व विख्यात है।इन्हीं परम्पराओं का निर्वहन करते हुए श्रद्धालुओं ने बलुआ स्थित मां गंगा के पावन तट पर स्नान दान किया।बाजार व घाट पर काफी चहल पहल रही।

मुलायम यादव ब्यूरो रिपोर्ट मानवाधिकार मीडिया चंदौली
मो०-9454180826