रायबरेली

सरकारी क्रय केन्द्रों पर शीघ्रता-शीघ्र भेजे किसान गेंहू व समर्थन मूल्य का लाभ ले:डीएम

-किसानों से गेंहू सीधी खरीददारी, बिचोलियों या दलाल की जानकारी हुई तो कठोर कार्यवाही-डीएम

रायबरेली। रबी विपणन वर्ष के तहत विगत माह से शुरू हुई गेहूँ खरीद व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी नेहा शर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के बचत भवन सभागार कक्ष में गेहूँ खरीद की बैठक की समीक्षा करते हुए समस्त क्रय केन्द्रों से जुडे केन्द्र प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि गेहूँ खरीदने के कार्य को लक्ष्य के अनुरूप प्राप्त करने के लिए युद्धस्तर पर कार्य करें। बैठक में बताया गया कि लक्ष्य के सापेक्ष गेहूँ की खरीददारी अभी कम है जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि सभी गेहूँ क्रय केन्द्रों को पूरी तरह से सक्रिय रखते हुए अवशेष  समय रहते शत प्रतिशत पूरा किया जाये।

प्रदेश सरकार द्वारा किसान भाईयों के लिए गेहूँ का समर्थन मूल्य प्राप्त करना किसानों का अधिकार है। किसान अपना गेहूँ अधिक से अधिक विक्रय हेतु सरकारी निर्धारित गेहूँ क्रय केन्द्रों पर ही भेजे तथा समर्थन मूल्य का लाभ उठाये। क्रय केन्द्रों को पूरी तरह से सक्रिय रखा जाये तथा निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति शीघ्र करें।जिलाधिकारी नेहा शर्मा में बैठक में केन्द्र प्रभारियों को निर्देश कि मानक से कम खरीद होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि गेहूँ खरीद में प्रगति लायी जाये और प्रत्येक केन्द्र के प्रभारी का यह दादित्व बनता है कि वह केन्द्र पर आने वालों कृषको की किसी प्रकार की समस्या न आये और उचित समय पर गेहूँ की तौल तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य भुगतान लाभ दिलाये जाना।समय से कार्य होने पर केन्द्र पर कृषकों की खरीदारी बढ़ेगी और प्रत्येक केन्द्र प्रभारी एक योजना बना कर खरीदारी करे जिससे कि लक्ष्य के सापेक्ष खरीदारी की जा सके अभी हमारे पास 1 महीनें का समय है।जनपद में 104 केन्द्र संचालित है तीन अन्य और भी निर्धारित किये गये है जिन्हें पूरी तरह से सक्रिय किया जाये।

किसानों से सीधा गेंहू खरीददारी किया जाये किसी भी बिचोलियों या दलाल की जानकारी हुई तो कठोर कार्यवाही की जायेगी।जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने स्पष्ट रूप से कहा कि गेहूँ क्रय केन्द्र समयानुसार अनिवार्य रूप से खुले रहें तथा लक्ष्य के अनुरूप गेहूँ खरीद करने की व्यवस्था पूरी करने के निर्देश दिये है।डीएम ने एलडीएम को भी निर्देशित किया गया कि बैंकें किसी भी प्रकार की चेकों के क्यिरेन्स में लापरवाही न बरते ऐसा करने पर बैंक कर्मियों को भी नही बक्शा जायेगा। बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व डा0 राजेश कुमार प्रजापति, जिला खाद्य विपणन अधिकारी सौरभ यादव, एआर कोपरेटिव, सहित केन्द्रों के संचालक आदि मौजूद रहे।